एचआईवी और एड्स क्या हैं?

PrintPrintSaveSave

To read this fact sheet in English, click here.
Para leer este hoja informativa en español, presione aquí.

विषय- सूची

एचआईवी क्या है?

एचआईवी का मतलब है ह्यूमन इम्यूनोडिफिशिएंसी वायरस (Human Immunodeficiency Virus) I यह वायरस एड्स (AIDS) का कारण बनता हैI

मानव शरीर कि रक्षा प्रणाली को प्रतिरक्षा प्रणाली या इम्यून सिस्टम कहा जाता हैI यह प्रतिरक्षा प्रणाली कई वायरस और बैक्टीरिया से मानव शरीर को लड़ने कि क्षमता प्रदान करती है I HIV इसी प्रतिरक्षा प्रणाली कि कोशिकाओं पर हामला कर इसे कमजोर करता है I यह कोशिकाएं एक प्रकार कि श्वेत रक्त कोशिकाएं होती है जिन्हे सी डी 4 (CD4) सेल्स भी कहा जाता है

अगर वायरस को नियंत्रित करने के लिए दवा का उपयोग न किया गया तो , HIV के जीवाणु CD4 कोशिकाओं पर कब्ज़ा कर उन्हें लाखो वायरस कि प्रतियां बनाने वाली फैक्ट्री में रूपांतरित कर देते है I इस प्रक्रिया में CD4 कोशिकाएं नष्ट हो जाती है जिससे प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर होती जाती है I अंततः यह एड्स का रूप ले लेती है.

एचआईवी के कई अलग अलग प्रकार है I इन्हे दो मुख्य प्रकारों में वर्गीकृत किया जाता है:

  • एचआईवी-1: यह प्रकार दुनिया भर में पाया जाता है और सबसे आम है
  • एचआईवी-2: ज्यादातर पश्चिम अफ्रीका, एशिया और यूरोप में पाया जाता है

एच आय वी से प्रभावित किसी भी व्यक्ति के शरीर में एक समय पर एच आय वी के कई अलग प्रकार मौजूद हो सकते हैं I

एड्स क्या क्या है?

एड्स (AIDS) का मतलब अक्वायर्ड इम्यूनोडिफिशिएंसी सिंड्रोम (Acquired Immunodeficiency Syndrome) है I यह एचआईवी संक्रमण कि सबसे अंत में होनी वाली अवस्था है I

एचआईवी , प्रतिरक्षा प्रणाली में काम आने वाली CD4 कोशिकाओं पर हामला कर , शरीर को एड्स कि स्थिति तक पहुंचा देता है I जब शरीर बहुत सी CD4 कोशिकाएं खो देता है तब कई गंभीर एवं घातक संक्रमणों का शिकार हो जाता है I इनको अवसरवादी संक्रमण ( opportunistic infections ) कहते हैं I जब किसी कि मृत्यु एड्स से होती है तब अक्सर मृत्यु का कारन अवसरवादी संक्रमण और HIV के दीर्घकालिक प्रभाव ही होते है I एड्स शरीर कि कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली को दर्शाता है जो अब अवसरवादी संक्रमण को रोक नहीं सकती I

एचआईवी और एड्स के बीच क्या अंतर है?

एचआईवी के केवल शरीर में प्रवेश से आपको एड्स नहीं हो जाता I आप एचआईवी के साथ (HIV+ होना ) बिना किसी लक्षण के , या केवल थोड़े बहुत लक्षणों के साथ कई सालों तक जीवन यापन कर सकते है I एचआईवी के साथ जीने वाले लोग अगर परामर्श के अनुरूप दवाएं ले तो उन्हें एड्स होने कि सम्भावना बहुत कम होती है I किन्तु बिना इलाज के एचआईवी अंततः CD4 कोशिकाओं कि संख्या इतनी कम कर देता है कि प्रतिरक्षा प्रणाली बहुत कमज़ोर हो जाती है I इन लोगो को अवसरवादी संक्रमण होने की गहरी संभावना होती है

एचआईवी के लिए प्रभावी उपचार उपलब्ध होने से पहले ही एड्स की परिभाषा स्थापित की गई थी। उस समय यह परिभाषा यह संकेत देती थी की वह एड्स ग्रसित व्यक्ति बीमारी या मृत्यु की उच्च जोखिम श्रेणी में शामिल है I उन देशों में जहा एचआईवी उपचार आसानी से उपलब्ध है, एड्स अब इतना प्रासंगिक नहीं रहा I एचआईवी के प्रभावी उपचार के उपलब्ध होने पर , लोग कम CD4 संख्या होते हुए भी स्वस्थ रह सकते हैं I वर्षों पूर्व अगर किसी व्यक्ति को एड्स होने की पुष्टि हुई थी, तब से उसकी प्रतिरक्षा प्रणाली सामान्य स्तर तक वापस आ सकती है I ऐसा होने पर वे एड्स ग्रसित कहे जा सकते है किन्तु उनकी CD4 संख्या सामान्य हो सकती है I

यूएस सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) ऐसे लोगों की पहचान करता है जो एड्स या एचआईवी के साथ जी रहें हैं या निम्न में से एक या दोनों स्थितियां में हो:

एड्स पीड़ित लोग एचआईवी दवाओं की मदद से अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली का पुनर्निर्माण कर सकते हैं, और एक लंबा, स्वस्थ जीवन जी सकते हैं। अगर एड्स होने के बाद भी आपकी सीडी 4 की संख्या 200 से ऊपर हो जाती है या अवसरवादी संक्रमण (OI) का सफलता पूर्वक इलाज हो जाता है, तो भी आप एड्स के मरीज कहलाएंगे । यहाँ यह जरूरी नहीं है कि आप बीमार ही हों, या भविष्य में बीमार हो सकते हैं । यह बस एक तरीका है जिससे सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणाली एचआईवी से प्रभावित लोगों की संख्या की गिनती करती है।

मुझे कैसे पता चलेगा कि मुझे एचआईवी है?

अधिकांश लोग यह नहीं बता सकते हैं कि वे एचआईवी के संपर्क में आ चुके हैं या उससे प्रभावित हो चुके हैं। एचआईवी के प्रारंभिक सूक्ष्म लक्षण , एचआईवी संपर्क में आने के दो से चार सप्ताह के भीतर दिखाई दे सकते हैं I यह लक्षण इस प्रकार हो सकते हैं:

  • बुखार
  • ग्रंथियों में सूजन
  • गले में खराश
  • रात में अधिक पसीना आना
  • मांसपेशी में दर्द
  • सर दर्द
  • अत्यधिक थकान
  • चकत्ते

कुछ लोग इन लक्षणों पर ध्यान नहीं देते क्योंकि ये दिखने में साधारण लगते हैं, या उन्हें लगता है कि उन्हें सर्दी या फ्लू है। इन "फ़्लू-जैसे" लक्षणों के गायब होने के बाद भी, एचआईवी से प्रभावित व्यक्ति किसी भी लक्षण के बिना वर्षों तक जी सकता हैं। यदि आप एचआईवी से प्रभावित हैं तो इसे जानने का एक मात्र तरीका एचआईवी जाँच करवाना ही है ।

यदि आपको एचआईवी के कुछ शुरुआती या थोड़े लक्षण दिखाई पड़ते हैं, तो यह महत्वपूर्ण है कि आप एचआईवी एंटीजन (न केवल एचआईवी एंटीबॉडी) की जाँच कराएं। एचआईवी एंटीजन यह एचआईवी वायरस, या संक्रमित कणों के अंश होते हैं। यदि एचआईवी एंटीजन आपके रक्त में है, तो ऐसी जाँचें उपलब्ध हैं जो आपके वायरस के संपर्क में आने से दो सप्ताह बाद ही एचआईवी संक्रमण की पहचान कर सकते हैं।

शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली, एचआईवी को चिह्नित कर उनका विनाश करने के लिए एंटीबॉडीज नमक प्रोटीन बनाता है । यह एंटीबॉडीज बनाने में शरीर को एक से तीन महीने या कभी-कभी छह महीने तक का समय लगता है। एचआईवी से प्रभावित होने और एंटीबॉडी के उत्पादन के बीच के तीन से छह महीने की अवधि को "विंडो अवधि" कहा जाता है। इसलिए, एंटीबॉडी का पता लगाने वाली जाँच, एचआईवी के संपर्क में आने के एक से तीन महीने बाद ही विश्वसनीय होती हैं।

क्या मुझे एचआईवी का जाँच कराना जरूरी है?

सीडीसी का अनुमान है कि लगभग 15 प्रतिशत अमेरिकी लोग जो एचआईवी से संक्रमित है, नहीं जानते कि वे एचआईवी से प्रभावित हैं। इनमें से बहुत से लोग स्वस्थ दिखते है, अच्छा महसूस करते हैं और यह नहीं सोचते कि उन्हें इस प्रकार की कोई जोखिम है। लेकिन सच्चाई यह है कि किसी भी उम्र, लिंग, नस्ल, जातीयता, सामाजिक समूह या आर्थिक वर्ग का व्यक्ति एचआईवी से संक्रमित हो सकता है । मनुष्य इन कारकों के आधार पर भेदभाव कर सकता है, लेकिन वायरस नहीं करता है। एचआईवी कैसे फैलता है, इस बारे में अधिक जानकारी के लिए, एचआईवी संचरण के हमारे फैक्टशीट को देखें।

यह देखने के लिए कि क्या आपको एचआईवी कि जाँच करवाना चाहिए, निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर दें:

  • क्या आपने कभी लिंग को योनि में (वजाइनल इंटरकोर्स ) या लिंग को गुदा में (ऐनल इंटरकोर्स ) सम्भोग, या बिना कंडोम या अन्य बेरियर(जैसे, डेंटल डैम) के बिना मौखिक सम्भोग (ओरल सेक्स ) किया है? नोट: मुख सम्भोग (ओरल सेक्स) एक कम जोखिम वाली गतिविधि है। योनि और गुदा सेक्स (वजाइनल और ऐनल सेक्स )- में बहुत अधिक खतरा होता है।
  • क्या आप अपने साथी के एचआईवी स्थिति को जानते हैं या आपका साथी एचआईवी संक्रमित है?
  • क्या आप गर्भवती हैं या गर्भवती बनने का विचार कर रही हैं?
  • क्या आपको कभी यौन संक्रमण या यौन रोग (एसटीआई या एसटीडी) हुई है?
  • क्या आपको हेपेटाइटिस सी (एचसीवी) है?
  • क्या आपने कभी दवाओं को इंजेक्ट करने के लिए सुई, सीरिंज या अन्य उपकरण साझा किए हैं (स्टेरॉयड या हार्मोन के लिए भी )?

यदि आपका इनमें से किसी भी प्रश्न का उत्तर हाँ है, तो आपको निश्चित रूप से एचआईवी जाँच कराना चाहिए। अमेरिका में, 13-64 वर्ष के बीच के सभी लोगों का एचआईवी जाँच कम से कम एक बार होती है।

मुझे जाँच क्यों कराना चाहिए?

यदि आप चिंतित हैं कि आप एचआईवी के संपर्क में आ गए हैं, तो जांच करवाएं। यदि जांच के बाद आप जान जाते है की आपको हिव संक्रमण नहीं है यानि आप एचआईवी नेगेटिव (एचआईवी - Ve ) तो आप चिंता न करे । आप प्री-एक्सपोजर प्रोफिलैक्सिस (पीआरईपी/ PrEP) या पोस्ट-एक्सपोजर प्रोफिलैक्सिस (पीईपी/ PEP) कराने पर भी विचार कर सकते हैं। PrEP का मतलब है, एचआईवी के संपर्क में आने से पहले एचआईवी की दवा लेना, ताकि खुद को बचाया जा सके। पीईपी का मतलब है एचआईवी के संभावित जोखिम के तुरंत बाद लगभग एक महीने के लिए एचआईवी दवाओं को लेना, ताकि एचआईवी संक्रमण को रोका जा सके।

यदि आप एचआईवी + / एचआईवी पॉजिटिव पाए जाते है , तो आपको स्वस्थ रहने में मदद करने के लिए प्रभावी दवाएं हैं। ये दवाएं एचआईवी के संक्रमण को रोकने का भी काम करती हैं। जब एचआईवी से प्रभावित व्यक्ति एचआईवी दवा लेता रहता है और उसका संक्रमण लोड (उसके रक्त में एचआईवी की मात्रा) बहुत कम स्तर तक पहुंच जाता है (जाँच में मापने के लिए उसके रक्त प्रवाह में पर्याप्त एचआईवी नहीं होते है). ऐसी स्थिति में वह अपने साथी को एचआईवी संक्रमण से बचा सकता है I

लेकिन यदि आप अपनी एचआईवी स्थिति (चाहे आप एचआईवी से प्रभावित हो या एचआईवी नेगेटिव हो) नहीं जानते हैं , तो आपको सही उपचार नहीं मिल पाएगा। यदि आपको अपनी स्थिति का पता नहीं है, तो आप जाने बिना दूसरों को भी एचआईवी संक्रमित कर सकते हैं।

गर्भवती होने जा रही महिलाओं के लिए, जाँच विशेष रूप से महत्वपूर्ण है। यदि महिला एचआईवी से संक्रमित है, तो गर्भावस्था के दौरान ली गई कुछ एचआईवी दवाएं और देखभाल उसके बच्चे को एचआईवी पॉजिटिव होने की संभावना को कम कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए, गर्भावस्था और एचआईवी की हमारी फैक्टशीट को देखें।

अमेरिका में, आप नज़दीक के जाँच सेंटर को खोजने के लिए नेशनल एचआईवी, एसटीडी और हेपेटाइटिस जाँच वेबसाइट या HIV.gov वेबसाइट पर जा सकते हैं। आप सीडीसी के इन्फॉर्मेशन नंबर 800-232-4636 पर भी कॉल कर सकते हैं या अपने राज्य के एचआईवी / एड्स हॉट लाइन (नंबर यहाँ सूचीबद्ध है) पर कॉल कर सकते हैं। दुनिया भर की सेवाओं को खोजने के लिए एड्स मैप ई-एटलस पर जाएँ। एचआईवी के जाँच के बारे में अधिक जानकारी के लिए – जाँच के प्रकार, वे कैसे काम करते हैं, और कहाँ की जाती हैं – हमारी फैक्टशीट एचआईवी जाँच को देखें।

एचआईवी कैसे फैलता है?

एचआईवी मुख्य रूप से निम्नलिखित शरीर के तरल पदार्थों (बॉडी फ्लुइड्स ) के संपर्क से फैलता है:

  • रक्त (मासिक धर्म/ पीरियड ब्लड सहित)
  • वीर्य (सीमेन ) और अन्य पुरुष यौन पदार्थ ( सेक्सुअल सिक्रेशन )
  • योनि तरल पदार्थ (वजाइनल सिक्रेशन )
  • माँ के दूध से

जब एचआईवी से प्रभावित लोग परामर्श अनुसार एचआईवी दवा लेते हैं और उनके संक्रमण लोड को कम करते हैं , इन तरल पदार्थों द्वारा दूसरों तक एचआईवी प्रसारित करने की संभावना कम हो जाती है। इसे एचआईवी उपचार के तहत एचआईवी रोकथाम कहते हैं। यदि एचआईवी से प्रभावित व्यक्ति एचआईवी दवा लेता है और एक बहुत ही कम संक्रमण लोड (मानक जाँचों द्वारा मापने के लिए बहुत कम) को बनाए रखता है, तो उनके वीर्य या योनि तरल पदार्थ अपने यौन साथी को HIV संक्रमण नहीं देंगे । एचआईवी फैलने का सबसे आम तरीके असुरक्षित यौन संबंध (बिना कंडोम, अन्य अवरोधक, या ट्रीटमेंट ऐस प्रिवेंशन के इस्तेमाल न करने से) , दवाओं को इंजेक्ट करने के लिए उपयोग की जाने वाली सुइयों को साझा करने से, या गर्भवती माँ-से-बच्चे को (गर्भावस्था के दौरान या स्तनपान से )।

शरीर के तरल पदार्थों के संपर्क में आने से एचआईवी नहीं फैलता :

  • पसीना
  • आँसू
  • लार (थूक)
  • मल (मलमूत्र)
  • मूत्र (पेशाब)

दूसरे शब्दों में, आपके द्वारा एचआईवी के व्यक्ति को छूने या गले लगाने से, चूमने से, या एचआईवी के व्यक्ति द्वारा उपयोग किए गए शौचालय का उपयोग करने से, एचआईवी नहीं होता है |

क्या एचआईवी के लिए कोई टीका या इलाज है?

एचआईवी के लिए न तो कोई टीका है और नही कोई इलाज है। एचआईवी को रोकने के लिए सबसे अच्छा तरीका है कि आप हर बार रोकथाम के तरीकों को अपनाएँ, जिसमें सुरक्षित यौन सम्बन्ध शामिल है (कम या बिना जोखिम वाली गतिविधियों को चुनना, कंडोम का उपयोग करना, यदि आप एचआईवी से प्रभावित हैं तो एचआईवी दवाओं को लें या यदि आप एचआईवी नेगेटिव हैं तो PrEP ले ) जीवाणुरहित (स्टरलाइज़्ड ) सुई का उपयोग करें (दवाओं, हार्मोन या टैटू के लिए)। अधिक जानकारी के लिए, एचआईवी टीके की हमारी फैक्टशीट को देखें।

अतिरिक्त जानकारी

जैसे आप एच आई वी के बारे में ज्यादा जानेंगे आपको यह लेख सामग्री उपयुक्त रहेगी :

Tags: 

admin's picture

Become a Member

Join our community and become a member to find support and connect to other women living with HIV.

Join now >

Do you get our newsletter?

admin's picture

Sign up for our monthly Newsletter and get the latest info in your inbox.

none_existing name
admin's picture

You Can Help!

Together, we can change the course of the HIV epidemic…one woman at a time!

Please donate now!>